Twitter | Search | |
विनोद बंसल - विहिप
Nat.Spokesperson - VHP (Vishwa Hindu Parishad). लेखन, धर्म-संस्कृति के साथ राष्ट्र सर्वोपरि। हिंदी हिन्दू व हिन्दुस्थान + कृण्वन्तो विश्वमार्यम् मूल मन्त्र।
8,083
Tweets
1,077
Following
8,974
Followers
Tweets
विनोद बंसल - विहिप 5h
It's the proud movement for the country because of our who placed on to the global heroes.
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप 6h
See how r being protected by & victim r being torchered by क्या अपराधी को शरण व पीड़ित का उत्पीड़न ही का है??
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप 17h
सिर मुंड़ाते ही ओले पड़े वाली कहावत चरितार्थ हो गई। में पहली वार कोई बना और की ही चारों कौन चित्त और वह भी से!!! बड़ी बात नहीं सुबह होते ही का स्तीफा मांग लें
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप 17h
अब देखना तो ये है कि के से नए नए बने व वहां की जनता अपनी की तरह बहादुर के के हाथों हारने पर उसका कैसे स्वागत करती है!!!
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप 18h
9 विकिट से के छक्के छुड़ाने वाले के जाबांजों को नमन व बधाइयां। for showing their path to n
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप retweeted
Abhishek Singh Chauhan 18h
First lady of Pakistan is really very upset after losing so badly 😢
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप 19h
के व्यापक की कारक व की सन्त यहाँ के विज्ञापन में क्या कर रही है? भी उसी तरह की सेवा दिल्लीवासियों को देना चाहते हैं? पैसा व स्थान जनता का किन्तु नाम आप का वाह!!! क्या खूब..
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप 21h
See how mini pakistan is being built-up in Delhi...
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप 21h
See how a Girls shouting while jihadists attacked utsav in South Delhi but police keeps mum ??
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप 22h
8pm live tonight in on attacks on & residents in area.
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप Sep 23
जब कोई विदेश से आने वाला व्यक्ति यह कहता था कि वहां के लोगों की बीमारी का सारा खर्च वहां की सरकारें उठाती हैं तो बड़ा आश्चर्य होता था कि काश! भारत में भी.... आज वह सपना भी पूरा.. आज सर्वाधिक अनिश्चितता है तो वह है बीमारी का खर्च जो ...
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप Sep 23
Hope will neither let any die for want of nor burdened them financially to repay any medical loans. Schemes beneficiaries would be largest in the world. It's benefits must reached.
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप Sep 22
जो बात कभी कभी बड़े बड़े लेख या पुस्तकें नहीं कह पातीं उसे एक छोटा सा कार्टून सहज ही कह जाता है.....
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप Sep 22
the structure as seen between the railway lines in side the station may please be looked into. If it's so, it seems hazardous.
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप retweeted
Dr.Surendra Jain Sep 21
क्या अभी भी लोग को शांति का प्रतीक कह सकते हैं? जैसों की संवेदना सो गयी है क्या? छोटी घटनाओं पर को बदनाम किया था. अब??🤔 देवरिया: मोहर्रम के मातम में तलवार से छात्र का गला काटा, इलाके में सांप्रदायिक तनाव
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप Sep 21
क्या कोई त्योहार ऐसा भी मनेगा जब किसी हिन्दू का रक्त न बाहे?? के में के जुलूस का शिकार फिर एक हिंदू बना !!
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप Sep 21
एक बात सोचने की है कि आखिर ये अपने 'सेवा' कार्यों को किसी बाहुल्य क्षेत्र में क्यों नहीं ले जातीं?? क्या वे से अधिक सम्पन्न हैं या फिर.... कृपया अपने विचार बताओ!!
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप Sep 21
देखो के हेतु प्रायोजित की किस तरह रेट व कमीशन फिक्स है।
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप retweeted
Nisha Sep 20
Replying to @niissh
For those who were asking for the full video .. enjoy.. Part 2
Reply Retweet Like
विनोद बंसल - विहिप Sep 21
क्या यही है का वास्तविक दर्शन और के प्रति का नजरिया जो ये महाशय चिल्ला रहे हैं??
Reply Retweet Like