Twitter | Search | |
Pars Today Hindi
5,834
Tweets
21
Following
103
Followers
Tweets
Pars Today Hindi 5h
इस्राईली समाचार पत्र यरुश्लम पोस्ट में प्रकाशित इस रिपोर्ट में कहा गया है कि इस्राईल के सामने सब से हंगामे वाले मोर्चे , सीरिया, लेबनान और गज़्ज़ा पट्टी में खुले हैं और तीनों मोर्चों पर एक साथ ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi 5h
भारत की ओर से उठाए गए इस क़दम की अब पूरी दुनिया में आलोचना हो रही है, संयुक्‍त राष्‍ट्र संघ और कई अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार समूहों ने भारत पर ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi 5h
एफबीआई ने जिस 21 वर्षीय युवा को गिरफ्तार किया है उस पर वाइट हाउस सहित कई संवेदनशील स्थलों पर हमले की योजना बनाने का भारी आरोप है। एफबीआई ने जार्जिया राज्य में " हाशिर जलाल ताहब" नामक ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi 5h
ब्रिटेन की इस कंपनी ने कई मानकों के आधार पर अध्ययन किया और फिर नतीजे घोषित किये हैं। इस संस्था की घोषणा के अनुसार ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi 5h
अमरीकी समाचार एजेन्सी सीएनएन की रिपोर्ट एक साल से अधिक समय तक शोध के बाद वर्किंग ग्रुप की ओर से इस प्रस्ताव पर वोटिंग की गयी जिसके बाद शहर के प्रशासन ने घोषणा की कि ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi 7h
इस्राईली प्रधानमंत्री नेतेन्याहू की यह बिल्कुल आदत नहीं है कि वह अपने दुश्मनों को सलाह दें और जब से फिलिस्तीन की भूमि पर इस अवैध शासन का अस्तित्व हुआ है , इस सरकार के नेताओं ने अपने दुश्मनों के साथ हमेशा ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi 8h
फ़िलिस्तीनी संगठनों ने कहा है कि हमारे पास जो भी शक्ति और जो भी संसाधन हैं हम वह सब इसतेमाल करेंगे। बयान में बैतुल मुक़द्दस और पश्चिमी तट के इलाक़े इसी प्रकार 1948 में क़ब्ज़े में ली गई ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi 10h
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi 10h
रूसी विदेशमंत्रालय के बयान में कहा गया है कि अमरीका ने रूस को कटघरे में खड़ा करने के लिए व्यापक स्तर पर प्रचार शुरु कर दिया है किंतु हक़ीक़त में हमारे पास एसे सुबूत हैं जिनसे यह पता चलता है कि ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi 11h
सेना के सभी हाज़िर सरविस अफ़सरों को कथित रूप से कहा गया कि यदि उन्होंने सभी वाट्सऐप ग्रुप्स को न छोड़ा तो उनके ख़िलाफ़ ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi 11h
अमरीका में जिन लोगों को भी गिरफ़तार किया जाता है, उन पर आरोप चाहे जो भी हो, वह दो प्रमुख वर्गों में रखे जा सकते हैं। एक तो वह लोग हैं जो जिन्हें ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi Jan 16
जेबेल्ली का कहना था कि उन्हें ऐसी सूचना मिली है कि हाशमी को बिना किसी आरोप के क़ैद करके बहुत ही बुरी स्थिति में रखा जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रेस टीवी की एंकर का ज़बरदस्ती हिजाब हटा दिया गया और एक मुसलमान ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi Jan 16
ईरान भी यह स्पष्ट कर चुका है कि अगर उस पर अमरीका या उसके क्षेत्रीय घटकों की तरफ़ से कोई हमला किया गया तो वह जवाबी कार्यवाही के लिए पूरी तरह से आज़ाद है और मध्यपूर्व में मौजूद ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi Jan 16
स्काई न्यूज़ ने भी बताया है कि काम बम धमाका, मेन्बिज में अमरीकी गश्ती दल के वाहन के निकट हुआ जिसकी वजह से कई अमरीकी सैनिक घायल भी हुए हैं। ह्यूमन राइट्स सेन्टर के अनुसार कार बम धमाके द्वारा ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi Jan 16
ईरानी सैन्य इकाई का इतना दबदबा है कि यदि दुश्मनों को सीरिया में ईरानी सैना की एक भी युनिट नज़र आ गयी तो ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi Jan 16
सऊदी सरकार ने दुनिया भर में हो रही जग हंसाई के बाद देश में सामाजिक एवं राजनीतिक सुधारों के बजाए उन महिलाओं को ज़बरदस्ती वापस लाने का प्रयास किया, जो ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi Jan 16
राष्ट्रपति रूहानी ने इसी प्रकार पड़ोसियों के साथ ईरान के संबंधों में विस्तार पर बल देते हुए स्पष्ट किया कि , ईरान के निजी सेक्टर ने अन्य देशों विशेषकर पड़ोसियों के प्राइवेट सेक्टर से ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi Jan 16
वर्तमान समय में ईरान की 17 यूनिवर्सिटियों में जेनेटिक्स चिकित्सा में पीएचडी की डिग्री दी जाती है और इस्लामी गणतंत्र ईरान ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi Jan 16
आईआरआईबी के प्रमुख ने इसी प्रकार अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के सिलसिले में अमरीका के दो मुखे व्यवहार की ओर संकेत करते हुए कहा कि दोमुखा रवैया अमरीका की प्रवृत्ति में है और इस देश की सरकार केवल उन्ही लोगों को पसन्द करती है जो ...
Reply Retweet Like
Pars Today Hindi Jan 16
क़रीब 65 प्रतिशत मुसलमानों की संख्या वाला मलेशिया एक ऐसा मुस्लिम देश है, जो हमेशा ही फ़िलिस्तीनियों पर इस्राईल के अत्याचारों की खुलकर निंदा करता रहा है, हालांकि सऊदी अरब जैसे कुछ अरब देश जो ...
Reply Retweet Like