Twitter | Search | |
Search Refresh
Vilnius Centre Old Town Studio and Sauna Mar 19
Reply Retweet Like
Abdul Moid Aug 12
یورپ میں رومی کا فلسفہ में रूमी का Rumi Philosophy in Europe Maulana Jalaluddin , one of the the greatest Muslim Master who been read the most in countries. his of and Humanism was translated the most.
Reply Retweet Like
discover.bidaia 29 Mar 17
Reply Retweet Like
discover.bidaia 31 Mar 17
Reply Retweet Like
kri 1 Apr 18
केबल बोल्दैमा कसैको ज्ञानकाे, आकलन नगर!!! किनकी मा एउटा झाडु लगाउने ले पनि नै बोल्छ!!!!
Reply Retweet Like
चौकीदार🚩माहनुमा🚩 23h
बॉलीवुड के नक्सलियों को अब ये बात समझ आने लगी है .. सरनेम लेकर और तो क्या,, अब में भी छुट्टियां मनाने नहीं जा सकते 😂 अब तो नाम के आगें लगाना ही पड़ेगा 😜
Reply Retweet Like
इबराज कटुवाल Apr 22
अमेरिका र बसेका हरुले र मलेसियामा !बस्नेलाई भन्छन भने अरब र मलेसियामा बस्नेले अमेरिका र युरोपमा बस्ने लाई भन्न पाउने कि नपाउने???
Reply Retweet Like
Newscast Pratyaksha Apr 20
तृतीय विश्व : ‘ में पैरिस एवं मैंचेस्टर की तरह आतंकी हमलें करेगी
Reply Retweet Like
Anand Pradhan Dec 6
हम जब हिंदू-मुसलमान और मंदिर-मस्जिद की बहस और झगड़े में उलझकर मध्ययुग में लौट रहे हैं, के देश ने अपनी ट्रेनों और बस में सफ़र को मुफ़्त करने का फ़ैसला किया है। मतलब वहाँ बहस सार्वजनिक परिवहन को और लोकप्रिय बनाने पर चल रही है।
Reply Retweet Like
अभिमन्यु सिलवाल  #INC ⚙️⚔️ Nov 10
2009से2014 तक जब ओर के देश मंदी के हुए. के Dr. Singh ने भारत की विकास दर को क़ायम रखा.लेकिन 2014के बाद की विवेकहीन सरकार ओर ने नोटबंदी ओर GSTसे देश की विकास दर को गिरा दिया.
Reply Retweet Like
Shivangi Pathak Sep 5
मेरी के कुछ शब्द जो की उनके लिखे हुए एक सन्देश में मेरे के समिट को पूरा करने के बाद...... 🙏🙏
Reply Retweet Like
Chowkidar Ashok Somani May 9
के तहत मप्र के 40 किसानों का दल आज की 13 दिवसीय अध्ययन यात्रा पर रवाना हुआ। यह दल में कृषि और इससे जुड़ी नवीनतम तकनीकों का अध्ययन कर हमारे मप्र में उनकी उपयोगिता पर विश्लेषण करेगा।
Reply Retweet Like
सNजू बAबA Apr 25
आप कैसे बन सकते है ? 1. :नए मे ज्यादा मैडल लाकर, 2. : लाकर, 3. : अपने को दुनिया भर मे बेचकर मे नया बनाना 4. :साइंस मे करना,दुनिया को अपनी दिखाना 5. :Hate .
Reply Retweet Like
आज तक 13 Feb 18
क्या अब में रूक जाएंगी ? क्यों चाहता है ये जोड़ा में की धूम ,महाराष्ट्र के से में 11.30 PM
Reply Retweet Like
Chowkidar S🅰️chin..☞ 🏹 🇮🇳 8 Jan 18
कितनी जाहिल हैं ये नस्ल देखे कच्चा तेल इनकी जमीन के नीचे है उसे निकालते हैं और के देश यहां तक कि तेल के भी वही तय करते हैं आज तक एक नहीं लगा सके क्योंकि उसके लिए चाहिए और इनके पास वो है नहीं !!
Reply Retweet Like
Chowkidar Nirvikar Singh 7 Jan 18
में पर्याप्त "अनाज" न होने के कारण, "जानवरों" को मारकर, खाना ये उनकी विवशता है..! और में 1600 किस्मों की फसलें होने के बावजूद,सिर्फ "जीभ" के स्वाद के लिए, निरपराध "प्राणी" को मारकर, उसे खाना हमारी मूर्खता है...!!
Reply Retweet Like
#ℋ⚕ռɖʊ ℳoͦͦͦͦͦͦͦͦռl࿐ 21 Dec 17
वास्तव में में 25 दिसम्बर को ‘ संक्रांति' पर्व आता था और -अमेरिका आदि देश धूम-धाम से इस दिन उपासना करते थे । और पृथ्वी की गति के कारण संक्रांति लगभग 80 वर्षों में एक दिन आगे खिसक जाती है। @Vyakhya4
Reply Retweet Like
Newscast Pratyaksha 24 Aug 17
स्व- के लिए पर निर्भर नहीं रह सकता – युरोपीय कमीशन के प्रमुख जंकर का इशारा
Reply Retweet Like
Chowkidar Prem Shukla 27 Jun 17
की बेअदबी बेनक़ाब ! - के बाद में का बज रहा डंका , फिर भी करें शंका !
Reply Retweet Like
Mimansa Malik 23 Mar 17
की आतंकी बरसी पर में हमला.. में बार-बार 'लोन-वुल्फ अटैक' क्यों? 7PM
Reply Retweet Like