Twitter | Search | |
Search Refresh
om chhabra Jun 20
Reply Retweet Like
Nemat Tauhid Jun 19
Reply Retweet Like
AJAY ADATE Jun 16
अभिनंदन! 😊💐 ☕ @ Walchand College of Arts and Science
Reply Retweet Like
ViN Knowledge Jun 17
Reply Retweet Like
(((((((((ॐ))))))))) Jun 23
Reply Retweet Like
Asp007😎 Jun 21
ने दिए हैं बहुत से But कोई नहीं ’s_ok After long time... New look 😎🤓🤳 😎🤞🤞😉 @ MGM's College Of CS & IT, Nanded
Reply Retweet Like
【NAMBARDAR】 Prem Sagar Pandey - Sona Guru,【BJP】 3h
सब को करनी ..... में खुशियां ही सब कुछ नहीं होती,
Reply Retweet Like
Sweet girl 11h
उसी को आजमाती है, जो हर मोडपर चलना जानता है, कुछ पा कर तो हर कोई मुस्कुराता है, जिंदगी उसी की है .... जो सबकुछ खो कर भी मुस्कुराना जानता है।
Reply Retweet Like
®️✍️ 12h
खुद की निकालना काम है….लेक़िन खुद की बनानें में गुजर जाती है।
Reply Retweet Like
रंजना पटेल 14h
मर्द है वो तो उसकी हस्ती का इतना तो रौब हो..! बगल से निकले ग़र कोई औरत तो बेखौफ हो..! 🙏
Reply Retweet Like
🌹💞NiTu💞🌹 Jun 23
जी रहा हूँ 💔दर्द के सहारा जो☝️ तेरा हैं ही हम💔 ना मिलें में साथ जो ☝️ तेरा हैं... 🌹🌹🙏🙏🌸🙏🏿🙏🏿🌸🙏🙏🌹🌹 🐂🔱🕉️🕉️🔱🐂 🌹🌹🙏🙏🌸🙏🏿🙏🏿🌸🙏🙏🌹🌹 🌴🌼🌲🌲🌼🌴
Reply Retweet Like
एक बिखरता हुआ ईन्सान Jun 22
रिश्ते टूट न जायें इस डर से बदल लिया है खुद को, अपनी ज़िद से ज्यादा रिश्तों को एहमियत दी है मैंने..
Reply Retweet Like
ŞỮ₣ÏƴΔŇ ΔĦΔΜΔĐ ҜĦΔŇ☆ Jun 22
हालात के होते है कुछ लोग वरना तो सब☝मे होती है, ये है "जनाब" सिखाये बिना नही देती..!.!
Reply Retweet Like
s.k dwivedi bharat wale.....👳 Jun 22
जिंदगी कभी नीम का पत्ता तो, कभी पान का पत्ता है। जिंदगी कभी मीठी तो, कभी कड़वी है। जिंदगी कभी परिंदे के जैसी ऊंची उड़ने वाली उड़ान है । जिंदगी कभी पेड़ से गिरने वाली पत्ती है। बस यही है (मेरे द्वारा रचित)
Reply Retweet Like
Dr.Vishnu Nigam Jun 21
इंसानियत को कर देने वाली एक और घटना के के गांव में SC समाज की लड़की के साथ करके मार दिया और मृत लड़की को पेड़ से लटका दिया 70 साल की आजादी के बाद ये है , ST बहिन की
Reply Retweet Like
Prof. Sarita Sidh Jun 19
मेहनत से उठी हूँ मेहनत का दर्द जानती हूँ आसमाँ से ज्यादा जमीं की कद्र जानती हूँ लचीली टहनी थी,झेल गई आँधिया मैं मगरूर दरख्तों का हश्र जानती हूँ छोटे से बडा बनना आसान नहीं जिन्दगी में जरुरी है त्याग,जानती हूँ कुछ पा-कर भी,कुछ नहीं है क्योंकि आखिरी ठिकाना है,चिता जानती हूँ
Reply Retweet Like
अभिलाष गौतम Jun 19
Reply Retweet Like
NiLu Banna❤ Jun 19
बारिश की बूंदों 💦 सी ठहरती, फिसलती .... 💝
Reply Retweet Like
🇮🇳Kavita malik(Royal_जाटणी) Jun 17
सुन_पगली 📢👉 हैं छोटी👌🏻 लेकिन☝ में 🚦बहुत 😏हैं बस🖐🏻 तू 👸🏻आज दे ☺दे प्यार❤ का ✳ और✌ में तुम्हें 👆ले चलु 👫की 💏 🚘 पे
Reply Retweet Like

Related searches

@kuchshabd
🇮🇳Kavita malik(Royal_जाटणी) Jun 17
* * दिखाओगे,* 'तो कोई ** भी नही* *'लेकिन एक देकर,* 'तो देखो भर कोई तुम्हे भूलेगा नही, *─⊱━━━━━━━⊱♥⊰━━━━━━━⊰─* *━━━━━❪♥❫━━━━━*
Reply Retweet Like