Twitter | Search | |
Search Refresh
🌹Madhu 🌹Tripathi 🌹up Aug 19
💛💛💛💛💛💛💛 देश में "राजा"... समाज में गुरु".. परिवार में "पिता'"... घर में "स्त्री"... ये कभी" साधारण"नहीं होते.. क्योंकि.... निर्माण और प्रलय.. इन्हीं के हांथ में होता है.. 💛 💛🙏💛 💛💛💛सुप्रभात 💛💛💛
Reply Retweet Like
Rofl Yogi 18h
Previously, Lord Ram had murdered the Rishi Shambuka under the pretext of bigotry religion, now his self-acclaimed devotees are doing the same under the name of Ram.
Reply Retweet Like
Prof. Sarita Sidh Aug 13
रहमतों की कमी नहीं प्रभु के ख़ज़ाने में, झांकना खुद की झोली में है कि, कहीं कोई 'सुराख' तो नहीं... परिंदों को तो जुटाने हैं रोज गिरे हुए दाने, परेशान तो वो हैं, जिनके घरों में भरे हैं तहखाने.......!
Reply Retweet Like
❓❓❓ Aug 16
गीता में कहीं लिखा ही नहीं की दूसरे धर्म का सम्मान करे क्योंकी दूसरा धर्म था ही नहीं ......गर्व से कहो हम हिन्दू है
Reply Retweet Like
🌿🌿 mk.Mathur🌿🌿 Aug 13
Reply Retweet Like
❓❓❓ Aug 16
कुछ लोग हमारे रिश्तेदार नहीं होते, पर रिश्तों से भी खास होते हैं । फिर चाहे इसे दोस्ती कह लें, या फिर उपरवाले की कृपा !
Reply Retweet Like
❓❓❓ Aug 16
ये नज़र नज़र की बात है कि किसे क्या तलाश है; तू हँसने को बेताब है…. मुझे तेरी मुस्कुराहटों की प्यास है…
Reply Retweet Like
VIKAS  NIRMAL Aug 19
Reply Retweet Like
Priya🌈keshari Aug 14
प्रेम से भरी हुई आंखे.. श्रद्धा से झुका हुअा सर.. सहयोग करते हुवे हाथ.. सन्मार्ग पर चलते हुवे पांव.. और सत्य से जुड़ी हुई जीभ.. 🙏 🙏 🙏🙏🙏🙏
Reply Retweet Like
❓❓❓ Aug 19
पूछा गया:- भाग्य किसे कहते हैं? उत्तर आया:- 7 महाद्वीप,202 देश व 4200 धर्म होने के पश्चात भी जन्म भारत देश वह भी हिन्दू परिवार मे। इसे कहते है भाग्य।
Reply Retweet Like
❓❓❓ Aug 16
कोई भी सफर कभी खत्म नहीं होता.....!! या तो रास्ता बदल जाता है..!! या फिर वास्ता खत्म हो जाता है...!!
Reply Retweet Like
Priya🌈keshari Aug 19
बदल गया जमाना अब पहले जैसा नही रहा पहले लोग माँ के पैर छु कर निकलते थे..!! और अब मोबाईल की बैटरी फुल कर के निकलते है......!! 🙏 🙏 🙏🙏 🙏🙏
Reply Retweet Like
🇮🇳LOYAL'S➡JAAT®🇮7.9k🇳 Aug 16
बन्दिशों से रुका नहीं करतीं. कश्तियाँ अरमानों की........ बेपनाह कुछ भी हो, परवान चढ़ता है .. _________________________________
Reply Retweet Like
krishna choudhary 16h
ये जिदंगी, तमन्नाओं का गुलदस्ता ही तो हैं, कुछ महकती हैं, कुछ मुरझाती हैं और कुछ चुभ जाती हैं”......!!
Reply Retweet Like
Priya🌈keshari Aug 16
बिना स्वार्थ किसी का भला करके देखिये..!! आपकी तमाम उलझने ऊपर वाला सुलझा देंगा..!! 🙏 🙏 🙏🙏 🙏🙏
Reply Retweet Like
❤pαndєч ѕαpnα🚩🚩 Aug 18
चार चीजो में कभी शर्म नही करना । 1.....पुराने कपड़ो में , 2......गरीब दोस्तो में, 3..... बूढ़े माता पिता में, 4.....सादे रहन सहन में, 🙏 🙏🚩
Reply Retweet Like
Shivang Shekhar Goswami 🇮🇳 PRO [ SSP Noida ] Aug 13
ज़िन्दगी में अगर सबसे अच्छा सोचना है, तो हमें सर्वप्रथम किसी का बुरा सोचना बंद करना होगा।
Reply Retweet Like
POONAM MISHRA Aug 20
🔵 ॥ 'मौन एक उत्तम भाषा'॥ "इंसान बुरा नही होता, उसकी परिस्थितियाँ उसे अच्छा या बुरा बना देती है! 😡😡 किसी पर अपनी राय बनाने या 'तंज कसने से पहले, उसकी 'परिस्थितियों पर जरूर ध्यान दें! 👉बोले तो 'अच्छा बोले अन्यथा... ........'मौन 😷😷ही रहें! !
Reply Retweet Like
Priya🌈keshari Aug 17
जिसने तुम्हे नौ महिने पेट मे.. तीन साल हाथों मे.. और जिंदगी भर दिल मे रखी.. उस माँ की कदर करना सीखो.. जिंदगी में कभी नहीं हारोगे.. 🙏 🙏 🙏🙏 🙏🙏
Reply Retweet Like
krishna choudhary 16h
ज़िंदगी में आईना, जब भी उठाया करो... "पहले देखो", फिर "दिखाया करो".. !
Reply Retweet Like