Twitter | Search | |
Search Refresh
गिरिराज किशोर इटावा यूपी भारत । Jul 15
के करोडों तरीके हैं । प्यार से कोई भी अछूता नहीं है । सब प्रेम की ही पैदाईश हैं । कोई उल्टी इबारत इबादत सिखा गया । कोई सीधी इबारत इबादत सिखा गया । करनी इबादत धरती पर ही । चाहें सीधे चलो या उलटे । चलना जरूर होगा ।
Reply Retweet Like
Ravi Fichadia ©✍ Jul 16
Replying to @AvantikA_2
जिसे पूजा था हमने वो तो ख़ुदा ना हो सका हम ही करते करते फ़क़ीर हो गये…….!!
Reply Retweet Like
दिल से देश ♥️100% FOLLOW BACK Jul 18
दीदार हो जाए जनाब ए मुस्तफा का ऐसी मैं करूंगा..!👐👐👐👐👐 बन जाए मेरा वही पुराना हिंदुस्तान ऐसी मै करुंगा..!!🤝🤝🤝🤝🤝
Reply Retweet Like
💕 🇮🇳कोमल वर्मा 🇮🇳💕 🚩39K 🚩 Jul 15
मैं वहीं...!! जिसकी हो तुम...!! मैं वहीं...!! जिसकी हो तुम...!! मैं वहीं...!! जिसकी हो तुम....!! मैं वहीं...!! जिसकी हो तुम...!! सुप्रभात दोस्तों
Reply Retweet Like
HARSHIT RAJ NIRMAL Jul 18
भी भी भी भी बहुत कुछ करके देखा फ़िर भी हमारे न हो पाये👌😢😢😢
Reply Retweet Like
Vikash Pandey Jul 18
हो उनकी में मेरा मेरी भी उन्हें हैं। दूं मैं अपनी या कोई है। 2/2 पाण्डेय
Reply Retweet Like
Dr AmiT kumar SarraF☄☄☄ Jul 17
कुछ अमल भी जरूरी है, इबादत के बाद, सिर्फ सजदा करने से जन्नत नही मिलती ! - or .
Reply Retweet Like
Aahna Tayal💃💃 Jul 16
Replying to @AahnaTayal
Thanks 🙏 all f uuuhh अकेले हम बूंद हैं,मिल जाए तो सागर हैं अकेले हम धागा है , मिल जाए तो चादर हैं अकेले हम शब्द हैं, मिल जाए तो किताब हैं अकेले हम हैं , मिल जाए तो हैं गुरु चरणों में समर्पित 🙏🙏🙏🙏
Reply Retweet Like
Sanjeev Sehrawat Jul 15
:- नाम के में भी जाते हैं, मुस्लिम बच्चे और हिन्दू बच्चे पूजते थे👍 आज जारी हुआ सरस्वती पूजा नहीं होगी सिर्फ कुरान की करनी होगी, ...
Reply Retweet Like
🌹DR_MSG Ki In@y@t🌹 Jul 15
जब शिकायत और फरियाद सिर्फ "मुर्शिद से ही होने लगे" तो समझ लेना इबादत करने का तरीका आ गया
Reply Retweet Like
Riya pandey Jul 13
❤️मैं हूँ ,,, तुम ,,,,💕 🌹मैं हूँ ,,, तुम ,,,,💕 ❤️मैं हूँ ,,, तुम ,,💕 🌹मैं हूँ ,,, तुम ,,,💕 ❤️"तुम" हो... ऐसी "हम".... नही करेंगे💕 🌹मगर हम ही रहेंगे... ये तो "हम"... से कहेंगे......💘
Reply Retweet Like
naman krishana Jul 13
परिवर्तन विकास का है जब युवा शक्ति सजग हो ।। चल-चले आज, हम केवल अपनी से कल तो खुद-बे-खुद बदलेगा, तेरी से थक कर यूँ बैठ , तो कोई नहीं चलने से दूरियाँ मिटेंगी, ठहर...
Reply Retweet Like
Adhura Ishq Jul 12
Agr ishq na hota toh rasta badal leta Par wo aj bhi us dargah par ati hai.....
Reply Retweet Like