Twitter | Search | |
Dilip Mandal
Journalist, Former Managing Editor, India Today. Author of bestsellers like 'Media ka Underworld' and 'Corporate Media: Dalal Street.' Jai Phule, Jai Bhim.
6,432
Tweets
1,707
Following
26,843
Followers
Tweets
Dilip Mandal 24h
रेलवे और अमृतसर प्रशासन की आपराधिक गलती से इतने सारे लोग मारे गए. मृतकों के परिवारोंं को कितना मुआवजा मिलना चाहिए?
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 18
पर मेरी पहली प्रतिक्रिया। आंदोलन खाती-पीती औरतों का है, लेकिन यह तमाम औरतों और देश की अर्थव्यवस्था के हित में है। पढ़कर राय दीजिए।
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 17
पंडिज्जी, देवदासियों के मंदिर परिसर और अपने घरों में आने पर रोक कब लगाओगे? इनसे तुम्हारा धर्म भ्रष्ट नहीं होता? इनकी तो जाति भी तुमसे नीची होती है. यही तो तुम्हारे ग्रंथ बताते हैं. ये प्रथा जारी है. सिर्फ कर्नाटक के मंदिरों में राज्य सरकार के मुताबिक 9,733 देवदासियां हैं.
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 17
जम्मू-कश्मीर में कल हुई मुठभेड़ में कॉन्स्टेबल कमल किशोर ने देश के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया. क्या सरकार शहीद कमल किशोर की विधवा या उनके परिवार के एक सदस्य को 15 दिनों के अंदर क्लास वन सरकारी अफसर की नौकरी देगी, जैसी नौकरी एनकाउंटर में मारे गए विवेक तिवारी की विधवा को दी गई है?
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 17
केरल के सबरीमला मंदिर में औरत मंदिर जाएगी या नहीं, यह प्रगतिशील ब्राह्मणों और कट्टरपंथी ब्राह्मणों का आपसी मैटर है. मेरी उस बारे में कोई दिलचस्पी नहीं है. आपकी है क्या? -दिलीप मंडल ब्राह्मण मामलों के विश्वविख्यात विशेषज्ञ
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 16
मोदी शासनकाल के पाँच ऐसे बड़े प्रोजेक्ट के नाम बताइए, जिनका शिलान्यास और उद्धाटन, दोनों काम मोदी सरकार में हुआ हो। मतलब काम शुरू मोदी शासन में हुआ और पूरा हो गया। दिल्ली की 9 किलोमीटर वाली सड़क को भी इसमें गिना जाएगा, जिसका उद्धाटन मोदी ने किया था
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 16
क्या आपको भी ट्रोल से डर लगता है?
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 15
बीएसएफ़ के इंस्पेक्टर बी. के. यादव आतंकवादियों से भिड़ंत में शहीद हो गए। उनकी विधवा को सरकारी नौकरी का एक साल से इंतज़ार है। विवेक तिवारी सही या ग़लत पुलिस मुठभेड़ में मारा गया। उसकी विधवा को सरकारी अफ़सर की नौकरी मिल गई जिसमें वेतन 1.74 लाख रुपए महीने तक है। क्या ये न्याय है?
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 15
सेना, अर्धसैनिक बल और पुलिस के शहीदों को भी विवेक तिवारी की विधवा की तरह क्लास वन अफसर की पक्की सरकारी नौकरी दिलाने की मुहिम को क्या आगे भी जारी रखना चाहिए?
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 15
तिवारी परिवार के साथ न्याय हुआ. स्वागत है, लेकिन शहीदों के परिवारों के साथ अन्याय नहीं होना चाहिए. आतंकवादी हमलों में शहीद हुए बीएसएफ के बीके यादव के परिवार को राज्य सरकार ने दो लाख रुपये और आश्रित को नौकरी देने का वादा किया था, जो एक साल बीतने के बाद भी पूरा नहीं किया जा सका.
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 14
झोला उठा करतब दिखा मत टहल जहाज पकड़ सरपट निकल - आचार्यवर रामपलट दास महाराज
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 14
वे लाखों यूपी-बिहार वालों को वापस भेज रहें हैं. आपको सिर्फ एक गुजराती आदमी को वापस गुजरात भेजना है. इतनी सी बात है!
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 14
आज से मैं अगले दस दिन तक हर दिन सेना और अर्धसैनिक बल के एक शहीद जवान की विधवा की तस्वीर लगाऊंगा और सरकार से मांग करूंगा कि लखनऊ शूटआउट में मारे गए विवेक तिवारी की विधवा की तरह इन विधवाओं को भी सरकार में आईएएस के वेतनमान वाली अफसर की नौकरी दी जाए. क्या आप लोग मेरा समर्थन करेंगे?
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 14
नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में चल रहा भारत छोड़ो आंदोलन आगे बढ़ा. रवि पार्थसारथी. स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट का सबसे बड़ा लाभार्थी. IL&FS का एमडी पार्थसारथी बैंकों का 91,000 करोड़ रुपया डुबाने के बाद लंदन में. लौटने का कोई इरादा नहीं. उसके भागने के तीन महीने बाद आया लुक आउट नोटिस.
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 13
इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया की वेबसाइट डाउन है क्या? चेक करके बताइए
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 13
स्कूल परीक्षाओं में साइंस में भी लड़कियाँ अक्सर लड़कों के बराबर या बेहतर परफ़ॉर्म करती है। लेकिन ऊपर की क्लास में या फिर साइंस लेबोरेटरीज में वे पिछड़ जाती है। क्या होता है इस बीच उनके साथ?
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 13
“जान को ख़तरा” क्या है?
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 13
अनरजिस्टर्ड संस्था राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को कोई हक़ नहीं है कि ख़ुद को राष्ट्रीय कहे। वह ख़ुद को ब्राह्मण सेवक संघ कहे, तो सही होगा। ठीक है?
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 11
कल मैं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (रजि.एप्लिकेशन स्वीकृत) के एक कार्यक्रम में शामिल रहूंगा. फर्जी RSS संविधान और कानून को नहीं मानता, इसलिए उसने अपनी संस्था का कभी रजिस्ट्रेशन नही कराया. अरबों रुपए की इसकी जायदाद और आमदनी है कि लेकिन ये अपने एकाउंट की ऑडिटिंग सरकार को नहीं देता.
Reply Retweet Like
Dilip Mandal Oct 11
के संस्थापक शंकर के निधन की खबर आई है. दुखद. अभी उन्हें और भी बहुत सारी सफलताएं हासिल करनी थी. उनके संस्थान से निकले सैकड़ों अफसर और छात्र उन्हें याद कर रहे हैं.
Reply Retweet Like