Ashok Gehlot Aug 20
जी बहुआयामी प्रतिभा के धनी थे। उनकी सोच युवा भारत के लिए थी, 21वीं सदी के लिए थी इसीलिए उन्होंने मिशन मोड पर विकास के लिए काम किये। उसका परिणाम आज देश के चहुंमुखी विकास के रूप में हमारे सामने है। देश में आईटी की क्रांति उनकी बदौलत हुई है।