Twitter | Search | |
Sant Shri Asharamji Bapu
Official Twitter Account of Sant Shri Asharamji Bapu । 50+ years of continual service to humanity । Account managed by Sant Shri Asharamji Ashram.
17,501
Tweets
1
Following
87,299
Followers
Tweets
Sant Shri Asharamji Bapu 2h
आप 3 महीना लगातार यह प्रयोग करें आपको जो भी दिखे , आप जिससे मिलें , आप सोचो "यह भी नहीं रहेगा" एक दिन नाश हो जाएगा । यह अभ्यास करने से जिसकी सत्ता से दिखता है वह परमात्मा आपके हृदय में प्रकट हो जाएगा । - पूज्य बापूजी
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu retweeted
Sant Shri AsharamJi Ashram 2h
पूज्य संत श्री आशारामजी मालेगाँव आश्रम की तरफ से औरंगाबाद के पोलिस कर्मियों को होमियोपैथिक दवाइयां का वितरण किया जैसे कि Arsenic album 30 & Camphor 1m का निशुल्क वितरण किया व दवाइयों की भी पूरी जानकारी दी।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu retweeted
Rishi Darshan™ 16h
तितल मुनि प्रसंग || बोध का अर्थ क्या है ? अगर आप जान गये इसे तो आप भी उस अवाच्य पद पर पहुँच सकते है , जिस पद को पाने के लिए तरसती है दुनिया।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu retweeted
Bal Sanskar Kendra May 26
Replying to @Balsanskarsewa
बिलासपुर, छत्तीसगढ़ में रहने वाली अवनि कटैलिहा के समय का सदुपयोग कर सभी बच्चों को प्रेरणा दे रही है। सभी बच्चे देखें और इसी प्रकार अपने बहुमूल्य समय को व्यर्थ ना गवाएं !
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu 2h
सिरदर्द हो, मायग्रेन हो टायजेरीया हो तो देशी गाय के शुद्ध-घी का नस्य (नाक में दोनों तरफ घी डालकर उसको धीरे धीरे ऊपर खींचना) लें। कभी-कभी गायके घी मे दो-चार बुंद बदाम रोगन तेल भी मिला सकते हो। भोजन में तेल और मिर्च - मसाला की मात्रा कम करके घी की मात्रा अधिक रखे। -पूज्य बापूजी
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu 12h
संत टेऊँरामजी पुण्यतिथि संत टेऊँराम के वहाँ से चोर बर्तन चुराकर ले गए, भक्त बोले अब क्या खायेंगे? संत टेऊँराम : “तुम देखते रहो उस लीलाधर की लीला। तुम काहे को चिंता करते हो! तुम तो भजन में रहो मस्ती से।" थोड़ी देर में कुछ लोग भोजन लेकर भी आ गए।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu 16h
दुख आया है तो जायेगा, सुख आया है तो वह भी जायेगा, बीमारी आयी है तो जायेगी, शरीर भी आया है तो जायेगा पर शरीर के पहले जो था, अभी जो है और बाद में जो रहेगा वह कौन है? -इस प्रकार के ज्ञान में अगर आप जग गये तो ज्योतियों-की-ज्योति वह परब्रह्म-परमात्मा आपके भीतर प्रगट हो जायेगा।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu May 27
जो दुःखी हो गये थे, मेरे को प्रसन्न देखकर उनका दुःख भी मिट जाता है। बापू मौज में हैं क्योंकि बापू ने बड़े बापू (साँईं लीलाशाहजी महाराज) की बात मान ली। आप भी मेरी बात मान लो। परिस्थितियाँ व आँधी-तूफान आते हैं परंतु बाद में मौसम बड़ा सुखदायी हो जाता है। बढ़िया परिस्थितियाँ आयेंगी।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu retweeted
Yuva Seva Sangh Ashram Official May 27
लॉकडाउन के चलते संत आशारामजी बापू आश्रम व पूज्य बापूजी प्रेरित युवा सेवा संघ इंदौर द्वारा जरुरतमंदों में राशन व सत्साहित्य वितरण की चल रही सेवाओं की कुछ झलकियाँ |
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu retweeted
Bal Sanskar Kendra May 26
Replying to @Balsanskarsewa
बिलासपुर, छत्तीसगढ़ में रहने वाली छोटी अवनि कटैलिहा के समय का सदुपयोग कर बच्चों को प्रेरणा दे रही है। सभी बच्चे देखें और इसी प्रकार अपने बहुमूल्य समय को व्यर्थ ना गवाएं!
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu retweeted
Rishi Darshan™ May 25
"जब तक धर्म नहीं जीतेगा , तब तक चैन से नहीं बैठेंगे Sant Shri Asharamji Bapu." - प्रवक्ता नीलम दुबे
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu May 26
भयानक से भयानक रोग, शोक और दुःख के प्रसंगों में भी अगर अपनी आत्मा की अजरता, अमरता और सुख-स्वरूप का चिंतन किया जाये तो आत्मशक्ति का चमत्कारिक अनुभव होगा। नश्वर शरीर और सम्बन्धों में अपने को कब तक उलझाओगे? कई जन्म व्यर्थ गये। जागो अपने आप में। अब अपने सोऽहं स्वरूप को पा लो।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu May 26
गुरुपुष्यामृत योग : 28 मई (सूर्योदय से सुबह 7-27 तक) ‘गुरुपुष्यामृत योग सर्वसिद्धिकर है । व्यापारिक कार्यों के लिए तो यह विशेष लाभदायी माना गया है । इस योग में किया गया जप, ध्यान, दान, पुण्य महाफलदायी होता है ।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu May 25
शरीर का चिंतन सब तनावों को जन्म देने वाला है और भगवद्ज्ञान, भगवन्नाम-जप व भगवद्-ध्यान सब दोषों को हरने वाला है। अगर दोषों को अपने में मान लोगे तो उन्हें निकालने में बड़ी कठिनाई होगी और फिर उनको हटाने में सफलता मिले-न-मिले। अतः यह भलीभाँति समझ लो कि दोष मन में ही होते हैं।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu May 25
मंगलवारी चतुर्थी : 26 मई (सूर्योदय से रात्रि 1:09 तक) जैसे सूर्य ग्रहण को दस लाख गुना फल होता है वैसे ही मंगलवारी चतुर्थी को होता है,बहुत मुश्किल से ऐसा योग आता है। गौ झरण से कमरा साफ़ करके गौ चंदन धूपबत्ती जलाकर जप, मौन और ध्यान में रहो। - पूज्य बापूजी
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu May 25
सूर्य-शक्ति का प्रभाव हररोज प्रातःकाल में सूर्योदय से पहले स्नानादि से निवृत्त होकर जहाँ सूर्य का प्रकाश आता हो वहाँ नाभि का भाग खुला करके सूर्योदय के सामने खड़े रहो। मंत्र बोलोः ॐ सूर्याय नमः। ॐ मित्राय नमः। ॐ रवये नमः। ॐ भानवे नमः। ॐ खगाय नमः। ...
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu May 24
महाराणा प्रताप जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं। स्वयं कष्ट सहकर भी देशभक्ति तथा परोपकार में अपने सम्पूर्ण जीवन को लगा देनेवाले ऐसे वीरों को बहुत बहुत धन्यवाद और नमन...।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu May 24
वीर छत्रसाल जयंती की हार्दिक बधाई। धर्म की रक्षा के लिए अपनी जान तक की परवाह नहीं की वीर छत्रसाल ने । वही वीर बालक आगे चलकर पन्नानरेश हुआ ।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu May 24
साधना किसी मजदूरी का नाम नहीं है। भगवान को पाना कोई मेहनत-मजदूरी का काम नहीं है। साधन-भजन का एकाध अंश लेकर, एकाध कला सीख के नियम से साधना करोगे तो साधना का सत्य तुम्हारे हृदय में संचारित होने लगेगा। तुम तनावरहित, भयरहित, चिंतारहित होने लगोगे।
Reply Retweet Like
Sant Shri Asharamji Bapu May 24
मंगलवारी चतुर्थी : 26 मई (सूर्योदय से रात्रि 1-09 तक) मंगलवारी चतुर्थी यह सूर्यग्रहण के बराबर पुण्यदायी है । इसमें किया गया स्नान, दान व श्राद्ध अक्षय होता है ।
Reply Retweet Like