Twitter | Search | |
Pankaj realestate consultant
18
Tweets
47
Following
3
Followers
Tweets
Pankaj realestate consultant Jun 6
Replying to @PiyushGoyal
RIP
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Jan 13
मकर संक्रांति और लोहरी की आप सभो को बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाये!
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Jan 12
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Dec 1
* How long will our sister daughters be pistol due to such dirty law? * When the culprits of the rape themselves confess their mistakes then why not hang them directly?
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 30
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 29
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 22
अगर आप low investment - high return चाहते है तो रियल एस्टेट में ही इन्वेस्टमेंट करे। रियल एस्टेट सम्बन्धी ताजा जानकारी और किसी भी तरह के जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करे - या संपर्क करे - 7992316544 रियल एस्टेट सलाहकार लिगल सलाहकार वास्तु सलाहकार
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 17
vastu shastra plays a very important role in the modern era when building a house. is believed. If the house is built according to Vastu Shastra, then it keeps us away from sorrow, poverty, diseases etc. And there is always happiness in the house.
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 17
इस तरह की महत्वपूर्ण जानकारी के लिए हमारे पेज को जरूर लाइक करे और हमसे जुड़े -
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 16
इस तरह की महत्वपूर्ण जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को जरूर विजिट करे और हमसे जुड़े -
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 11
इस दिशा के स्वामी यम देव हैं। यह दिशा वास्तुशास्त्र में सुख और समृद्धि का प्रतीक होता है। इस दिशा को खाली नहीं रखना चाहिए। दक्षिण दिशा में वास्तु दोष होने पर मान सम्मान में कमी एवं रोजी रोजगार में परेशानी का सामना करना होता है।
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 10
- पूर्व और दक्षिण के मध्य की दिशा को आग्नेश दिशा कहते हैं। अग्निदेव इस दिशा के स्वामी हैं। इस दिशा में वास्तुदोष होने पर घर का वातावरण अशांत और तनावपूर्ण रहता है। धन की हानि होती है। मानसिक परेशानी और चिन्ता बनी रहती है।
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 9
- वास्तुशास्त्र में यह दिशा बहुत ही महत्वपूर्ण मानी गई है क्योंकि यह सूर्य के उदय होने की दिशा है। इस दिशा के स्वामी देवता इन्द्र हैं। भवन बनाते समय इस दिशा को सबसे अधिक खुला रखना चाहिए। यह सुख और समृद्धि कारक होता है।
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 8
वास्तु विज्ञान में चार दिशाओं के अलावा 4 विदिशाएं हैं। आकाश और पाताल को भी इसमें दिशा स्वरूप शामिल किया गया है। इस प्रकार चार दिशा, चार विदिशा और आकाश पाताल को जोड़कर इस विज्ञान में दिशाओं की संख्या कुल दस माना गया है।
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 7
हिंदू वास्तुकला में लागू किया जाता है, हिंदू के लिये और वाहनों सहित, , में भी का ध्यान दिया जा रहा है। दक्षिण_भारत में वास्तु का नींव परंपरागत महान साधु   जिम्मेदार है, और उत्तर भारत में  को जिम्मेदार है
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant Nov 7
में कहा गया है कि... गृहस्थस्य क्रियास्सर्वा न सिद्धयन्ति गृहं विना।    घर, भवन अथवा मंदिर निर्मान करने का प्राचीन भारतीय विज्ञान है। जिसे आधुनिक समय के विज्ञान आर्किटेक्चर का प्राचीन स्वरुप माना जा सकता है।
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant 2 Mar 19
Your contact...
Reply Retweet Like
Pankaj realestate consultant 1 Mar 19
Reply Retweet Like