Twitter | Search | |
Mayawati
National President, Bahujan Samaj Party (BSP), Former Chief Minister of Uttar Pradesh Four times (1995, 1997, 2002 & 2007) & Ex. MP.
277
Tweets
3
Following
315,727
Followers
Tweets
Mayawati 12h
Replying to @Mayawati
परन्तु लोकसभा आमचुनाव के बाद सपा का व्यवहार बीएसपी को यह सोचने पर मजबूर करता है कि क्या ऐसा करके बीजेपी को आगे हरा पाना संभव होगा? जो संभव नहीं है। अतः पार्टी व मूवमेन्ट के हित में अब बीएसपी आगे होने वाले सभी छोटे-बड़े चुनाव अकेले अपने बूते पर ही लड़ेगी।
Reply Retweet Like
Mayawati 12h
Replying to @Mayawati
वैसे भी जगजाहिर है कि सपा के साथ सभी पुराने गिले-शिकवों को भुलाने के साथ-साथ सन् 2012-17 में सपा सरकार के बीएसपी व दलित विरोधी फैसलों, प्रमोशन में आरक्षण विरूद्ध कार्यों एवं बिगड़ी कानून व्यवस्था आदि को दरकिनार करके देश व जनहित में सपा के साथ गठबंधन धर्म को पूरी तरह से निभाया।
Reply Retweet Like
Mayawati 12h
बीएसपी की आल इण्डिया बैठक कल लखनऊ में ढाई घण्टे तक चली। इसके बाद राज्यवार बैठकों का दौर देर रात तक चलता रहा जिसमें भी मीडिया नहीं था। फिर भी बीएसपी प्रमुख के बारे में जो बातें मीडिया में फ्लैश हुई हैं वे पूरी तरह से सही नहीं हैं जबकि इस बारे में प्रेसनोट भी जारी किया गया था।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 20
मा राष्ट्रपति सरकार की तरफ से कल देश को अनेकों प्रकार के आश्वासन दे रहे थे उसी दिन बीजेपी ने टीडीपी के 4 सांसदों को तोड़ लिया। उनमें से 2 को बीजेपी ’आंध्र का माल्या’ कहती है पर अब वे बीजेपी में आकर दूध के धुले हैं। स्पष्ट है बीजेपी ब्राण्ड आफ पालिटिक्स में सब जायज है कुछ गलत नहीं
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 20
राष्ट्रपति जी का आज संसद के संयुक्त सत्र को सम्बोधन क्या देश की त्रस्त जनता को आश्वस्त कर पाएगा कि नई सरकार की कथनी-करनी में पहले की तरह जमीन-आसमान का अन्तर नहीं होगा व जनहित के खास मुद्दों पर सरकार वादाखिलाफी नहीं करेगी? देश भर में फैली समस्यायें यह सवाल करने को मजबूर करती हैं।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 20
महाराष्ट्र की करोड़ों ग्रामीण जनता भूख, प्यास व सूखा आदि से तड़प रही है लेकिन वहाँ की बीजेपी सरकार अपनी लापरवाही व विफलताओं के कारण 4.72 लाख करोड़ के कर्ज में डूबी हुई है और जनसमस्याओं से निपटने में काफी लाचार नजर आ रही है। अब जनता को सोचना है कि ऐसी सरकारें उनके किस काम की है?
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 20
Replying to @Mayawati
यूपी सरकार लोगों के जान-माल व उनके इज्जत-आबरू की सुरक्षा में विफल रही है और साथ ही हर प्रकार की अराजकता को भी बढ़ावा दे रही है लेकिन लोगों का ध्यान बांटने के लिए नया कानून आदि बनाकर अब निजी विश्वविद्यालयों पर शिकंजा कसने का प्रयास जारी है जो पुलिस राज को ही यहां और बढ़ावा देगा।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 20
गुजरात में जातिवादी अत्याचार व हत्या लगातार जारी है जिस कारण सुरक्षा की माँग के बावजूद द्वेष के कारण बोताड़ जिले में कल दलित उपसरपंच मनजी सोलंकी की निर्मम हत्या कर दी गई। खासकर बीजेपी शासित राज्यों में इस प्रकार के जघन्य अपराधों का लगातार जारी रहना अति-दुःखद, निन्दनीय व शर्मनाक।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 18
कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राहुल गांधी को आज उनके जन्मदिन पर हार्दिक बधाई तथा उन्हें लम्बी व स्वस्थ्य जीवन की शुभकामनाएं।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 18
Replying to @Mayawati
बैलेट पेपर के बजाए ईवीएम के माध्यम से चुनाव की सरकारी जिद से देश के लोकतंत्र व संविधान को असली खतरे का सामना है। ईवीएम के प्रति जनता का विश्वास चिन्ताजनक स्तर तक घट गया है। ऐसे में इस घातक समस्या पर विचार करने हेतु अगर आज की बैठक बुलाई गई होती तो मैं अवश्य ही उसमें शामिल होती।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 18
किसी भी लोकतांत्रिक देश में चुनाव कभी कोई समस्या नहीं हो सकती है और न ही चुनाव को कभी धन के व्यय-अपव्यय से तौलना उचित है। देश में ’एक देश, एक चुनाव’ की बात वास्तव में गरीबी, महंगाई, बेरोजबारी, बढ़ती हिंसा जैसी ज्वलन्त राष्ट्रीय समस्याओं से ध्यान बांटने का प्रयास व छलावा मात्र है।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 17
Replying to @Mayawati
यूपी के प्रतापगढ़ में दलित किसान की जलाकर हत्या व डाक्टरों की कल हड़ताल के दौरान लोहिया अस्पताल में उत्पात वास्तव में हत्या व जूल्म-ज्यादती आदि की उस श्रृंखला की ताजा कड़ी है जो लोकसभा चुनाव के बाद दलितों, पिछड़ों व अल्पसंख्यकों पर हो रहे हैं। अति-दुःखद व निन्दनीय। सरकार ध्यान दे
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 17
बंगाल सरकार झुकी व डाक्टरों की 1 दिन की आल इण्डिया हड़ताल कल शाम समाप्त हो गई, परन्तु इस दौरान दिल्ली व यूपी सहित देश भर में करोड़ों मरीजों का जो बुरा हाल हुआ व अनेकों मासूम जानें गई उन खबरों से आज के अखबार भरे पड़े हैं। लेकिन इन बेगुनाह जनता की परवाह सरकार व कोई और क्यों करे?
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 16
Replying to @Mayawati
यूपी की त्रस्त जनता व बीपीएल परिवारों पर भी बिजली की दरों में भारी वृद्धि करके उन्हें तेज झटका देने की सरकारी तैयारी घोर निन्दनीय। लोकसभा चुनाव के बाद क्या बीजेपी सरकार इसी रूप में यूपी की 20 करोड़ जनता को आघात पहुँचाएगी? यह वृद्धि सौभाग्य को दुर्भाग्य योजना में नहीं बदल देगी?
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 16
यूपी में अपराध नियंत्रण व कानून-व्यवस्था की बिगड़ी स्थिति के साथ-साथ सर्वसमाज की बहन- बेटियों की जान व इज्जत-आबरू के सम्बंध में अराजकता जैसी स्थिति अति-दुःखद व अति-चिन्ता का विषय। सरकारी दावों के विपरीत पूरे प्रदेश में हर प्रकार के जघन्य अपराधों की बाढ़ से जनता में त्राहि-त्राहि।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 12
यूपी बार कौन्सिल की नवनिर्वाचित अध्यक्ष दरवेश यादव की आगरा कोर्ट परिसर में जघन्य हत्या अति-दुःखद व अति-निन्दनीय। साथ ही शामली में पुलिस द्वारा पत्रकारों की अकारण पिटाई जैसी घटनायें साबित करती हैं कि लोकसभा चुनाव के बाद बीजेपी के शासन में अराजकता व जंगलराज और भी ज्यादा बढ़ गया है।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 10
माननीय कोर्ट द्वारा कठुआ की मासूम बच्ची रेप-मर्डर केस में 3 दरिन्दों को उम्रकैद व 3 अन्य को 5 साल कैद की सज़ा देने के बाद संभव है लोगों में कानून का कुछ डर पैदा हो और वे दरिन्दगी से बाज आयें। कानून द्वारा कानून का राज कायम करने हेतु देश में हर जगह ऐसी सज़ायें देना जरूरी लगता है।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 10
प्रख्यात लेखक, रंगकर्मी, अभिनेता व निर्देशक श्री गिरीश कर्नाड का निधन अति-दुःखद है। उनके परिवार व मित्रों के प्रति मेरी गहरी संवेदना। कलाजगत के लिए यह अपूरणीय क्षति है। बहुमुखी प्रतिभा के धनी श्री कर्नाड देश व जनसेवा के लिए भी लगातार तत्पर रहे जिसके लिए भी वे याद किए जाते रहेंगे।
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 9
यूपी सीएम के खिलाफ अवमानना के सम्बंध में लखनऊ पुलिस द्वारा स्वतः ही संज्ञान लेकर पत्रकार प्रशान्त कनौजिया सहित 3 की दिल्ली में गिरफ्तारी पर एडीटर्स गिल्ड आफ इण्डिया व अन्य मीडिया ने काफी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है लेकिन क्या इससे बीजेपी व इनकी सरकार पर कोई फर्क पड़ने वाला है?
Reply Retweet Like
Mayawati Jun 8
Replying to @Mayawati
यूपी में अलीगढ़ के बाद अब हमीरपुर में 5वीं की मासूम छात्रा को अग़वा करके उसके साथ दुष्कर्म व हत्या की दर्दनाक घटना लोगों को काफी ज्यादा विचलित कर रही है और वे अक्रोशित व आन्दोलित हो रहे हैं। इन घटनाओं की रोकथात हेतु समाज व सरकार को और ज्यादा सख्त व संवेदनशील होने की जरूरत है।
Reply Retweet Like