Twitter | Search | |
Ankit Jha
Indian, Nationalist, An emerging entrepreneur (Event Planner), अखंड बनारसी (अल्हड़)!! राष्ट्रवादी हूँ, मेरे लिये देश (राष्ट्र) सर्वोपरि है।
15,107
Tweets
770
Following
766
Followers
Tweets
Ankit Jha retweeted
Gunjesh Gautam Jha⏺ 6h
"संगठन की शक्ति को समझने का सर्वश्रेष्ठ दृश्य। एक बार इस वीडियो को आपलोग अवश्य देखें.!"
Reply Retweet Like
Ankit Jha 2h
हटा सावन की घटा, दाद खुजा बत्ती बुझा। हवा आने दे ....!!😊
Reply Retweet Like
Ankit Jha retweeted
Jagrati Gupta✍ 3h
कहते हैं किस्मत कम बदल जाये कुछ पता नहीं; इसलिए कर्म करते रहिए।। बबिता जी एक स्कूल में मिड डे मील बनाकर 1500₹/महीना कमाती हैं,उनके पति उसी स्कूल में चपरासी हैं। पर अपने हुनर और काबलियत के दम पर, की मदद से 1करोड़ रुपये जीतने में सफल रहीं।। 👏👏
Reply Retweet Like
Ankit Jha retweeted
Vivek Ranjan Agnihotri 4h
“May be Yudhistrhra in Mahabharata had the image of Ashoka in mind when he renounced his kingship” - Romila Thapar said this just before asking “Who Is ?”
Reply Retweet Like
Ankit Jha retweeted
Rahul Shrivastava 🇮🇳 2h
Replying to @vivekagnihotri
मैडम इतिहास की व्याख्या कर रही हैं और इनको यह भी नहीं मालूम कि अशोक महाभारत काल से पहले थे या बाद में। जय हो👌
Reply Retweet Like
Ankit Jha retweeted
Sushant Sinha 3h
यही अगर बीजेपी शासित राज्य में, ABVP के कार्यकर्ताओं ने विपक्ष के किसी नेता के साथ कर दिया होता तो अब तक कितने ही मसीहा पत्रकारों ने छाती पीट पीटकर लोकतंत्र की तेरहवीं का भोज भी प्लान कर लिया होता और विपक्ष के अपने आकाओं से मेन्यू भी बनवा लिया होता।
Reply Retweet Like
Ankit Jha retweeted
Ministry of Railways Sep 19
New Retiring Room at Ahmedabad provides 3 Star facilities & comfort to the passengers. It has delux rooms as well as family rooms to accommodate travelling families.
Reply Retweet Like
Ankit Jha retweeted
shekhar Gupta देशप्रेमी 68 3h
जब मैं छोटा था यानी 10 साल के आसपास ,यानी 40 साल पहले भी retiring रूम ऐसा ही हुआ करता था , TV तब नही था , तब भी retiring रूम उस समय के hotels से अच्छा हुआ करता था। ये तो शायद पिछले 35 सालों से लापरवाही हुई थी ,जिसकी वजह से ये 3rd clas जैसा हो गया था ।
Reply Retweet Like
Ankit Jha retweeted
जितेन्द्र यादव 4h
फना कर दो अपनी सारी जिन्दगी अपनी माँ के कदमों में दोस्तों दुनिया में यही एक मोहब्बत है जिसमें बेवफाई नहीं मिलती..!!
Reply Retweet Like
Ankit Jha 3h
पर तैयारी शुरू भी हो गइल आजे से..
Reply Retweet Like
Ankit Jha 3h
ह्महुओ के चाही..😊
Reply Retweet Like
Ankit Jha retweeted
Rajan Shukla 9h
हरदम सहने बाले हमारे के इन की भी होनी चाहिए
Reply Retweet Like
Ankit Jha retweeted
Sainidan Ratnu 4h
आज हम सब कुछ हासिल करके भी,तन्हाई का जीवन जीने को विवश है।जिन बच्चों के लिए अपनी खुशियों को कुचला ,आज उन्ही बच्चों ने हमसे दूर होकर बेगाना कर दिया।
Reply Retweet Like
Ankit Jha 3h
🙏🙏
Reply Retweet Like
Ankit Jha retweeted
स्वाति पंडित 4h
क्या खूब कहा है, "चालान आपकी आदतों का कट रहा है, ना कि आपका या आपके वाहन का।" “आदत बदलिये , देश बदल जायेगा”||
Reply Retweet Like
Ankit Jha 4h
😊😊
Reply Retweet Like
Ankit Jha 4h
शायेद..!!
Reply Retweet Like
Ankit Jha 4h
😋😋
Reply Retweet Like
Ankit Jha 4h
पूरे दिल्ली एनसीआर में अइसने ही मिलेला..😊
Reply Retweet Like
Ankit Jha 4h
पैसा और रंग भेज दिहा...😜 ले आइब रंग भेज दिहा..😊
Reply Retweet Like