Twitter | Search | |
Bhagirath Nain
Official Twitter Account Vice President Rajasthan State.
1,399
Tweets
4,449
Following
48,669
Followers
Tweets
Bhagirath Nain Sep 23
उनका जोर MSP गारंटी कानून की है। जो बाजिव है। मगर उसकी आड़ में हर निर्णय को नकारा बताना अति है। जो दोनो तरफ से हो रही है! जितना एक क्रांतिकारी और दूसरा खराब बता रहे है उतना है नहीं!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
सरकार के करने से नही होता है! राजस्थान सरकार ने वैभव को प्रमोट किया, चला क्या!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
गठबंधन अजर नहीं है। जिन परिस्थितियों में किया उनके बदलते ही पुनः निर्णय होता है। गठबंधन में रहकर भी स्वामीनाथ रिपोर्ट, टिड्डी मुआवजा, PM फसल बीमा, नदी जोड़ो योजना व राज्य को विशेष दर्जा देने पर केंद्र को घेर रहे है यह महत्वपूर्ण बात है।
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
डार्विन का सिद्धांत है अनुपयोगी वस्तु धीरे धीरे खत्म होती है! जैसे बंदर से पूछ खत्म होकर मानव बना! जिओ की 21 की जगह 19 सेवा दे तो भी देश की जनता bnsl लेगी मगर ये तो 9 पर अटके है! और बायलोजिकल साइंस कहती है कि वेस्टेज सबसे पहले खत्म होगा!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
कौर के स्तीफा से हित अहित तय नही होगा! ये 4-6 माह बाद फिर से मंत्री दिखेगी!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
मंडी व्यवस्था खत्म होगी नहीं बल्कि और निवेश कर मजबूत करने का दावा कर रहे है प्रधानमंत्री!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
स्टॉक लिमिट कानून 65 साल पुराना था। तब की उपज और आज की उपज में रात दिन का अंतर आ गया! इसे बढ़ाने की जगज सीमा खत्म कर दी तो इंपेक्टर राज खत्म हो गया। वापिस खरीदना उपभोक्ता की श्रेणी में है किसान के उत्पादन से इसका कोई वास्ता नही!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
मंडी व्यवस्था खत्म करने का कोई प्रावधान नही दिखा! फिर कॉरपोरेट के गुलाम कैसे होंगे! बिल पारित का तरीका गलत हो सकता है, मगर इससे बिल का हित अहित तय नही होता!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
MSP पर फसल निर्धारित खरीद केंद्र पर बिकती है जो सीमित मात्रा में होतीहै। उसके अलावा बाकी फसल व्यापारियों के यहां बिकती। उसी फसल को मंडी के व्यपारियो की बजाय बाहर कहीं भी बेचने का प्रावधान है! MSP यथावत रहेगी। व्यपारी स्टॉक करेगा उससे उपभोक्ता प्रभावित होगा किसान को क्या नुकसान!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
यही हम सुनते आए कि मंडी में व्यपारी बोली लगाते हुए पेर से अनाज की ढेरी नही बल्कि किसान की पगड़ी उछालता है, व्यपारियो का यह एकाधिकार खत्म होना चाहिए! सरकार कह रही एक बिल यही काम करेगा फिर भी किसान नेता विरोध कर रहे है!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
स्टॉक लिमिट खत्म होने से फसल कटाई के समय व्यापारी माल स्टॉक हेतु ज्यादा खरीदेगा! यही कह रहे हो आप! अर्थव्यवस्था का नियम है कि ज्यादा खरीद होगी तो भाव मे तेजी आएगी! फिर ओने पोने दाम में क्यो बिकेगी! MSP अलग इश्यू है , उसका स्टॉक से क्या लेना देना!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
मान लिया व्यपारी स्टॉक कर लेगा फिर उपभोक्ता को महंगा बेचेगा! मगर इससे किसान को नुसकन क्या!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
आप बताए कि किस कानून से किसान को क्या नुकसान होगा! Live में उस पर चर्चा करूंगा।
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
सरकार मानती है तो ठीक वरना MSP पर प्राइवेट बिल रालोपा लोकसभा में लाएगी।
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
बाहर कर दिया इससे किसान को नुकसान और फायदा क्या होगा यही तो पूछ रहा हूं!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
बिल नम्बर 1 आवश्यक वस्तु अधिनियम, 1955 में संशोधन किया है जिसके जरिए खाद्य पदार्थो की जमाखोरी पर लगा प्रतिबंध हटा दिया गया! इससे किसान को क्या फायदा या क्या नुकसान होगा! जरा बताएं! तो सदा ही किसान जवान के लिए लड़ते रहे है और लड़ेंगे। यह प्रदेश की जनता जानती है।
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
ख्वाब नहीं देख रहे थे, असल में बनेंगे। विश्वास न हो तो स्क्रीन शॉट रख लेना।
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 23
क्या फायदा होगा इनसे किसानों को!
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 22
Replying to @BhagirathNain6
यह मेरा ऑफिसियल फेसबुक पेज लिंक है। Like के साथ कुछ मित्रो को Invite भी कर दें।
Reply Retweet Like
Bhagirath Nain Sep 22
कृषि अध्यादेश का महज इसलिए विरोध नही कर सकते कि काफी लोग इसके खिलाफ है! उनकी अपनी सोच है, हमे स्वविवेक से सोचना है। हमेशा मांग करती रही है कि MSP से कम पर फसल खरीद अपराध की श्रेणी में आए! शाम 7 बजे इस मुद्दे पर पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ फेसबुक लाइव में चर्चा होगी।
Reply Retweet Like