Twitter | Search | |
Arun Kumar Yadav
State Spokesperson cum Media In-charge, Youth RJD, Bihar.
3,464
Tweets
305
Following
5,812
Followers
Tweets
Arun Kumar Yadav 48m
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री राहुल गांधी जी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ.
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav 11h
पता नही था जी,आपके नाम के पहले पंडिताइन शब्द का प्रयोग करने पर आपके भाइयों व भक्तों को इतनी मिर्ची लगेगी। वैसे आपके भाइयों व भक्तों की दिखावटी संस्कार जो हो लेकिन आंतरिक संस्कार देखना हो तो ट्वीटर के कॉमेंट बॉक्स में जाकर देख ले।अमर्यादित भाषा में पीएचडी किये हुए है।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav 14h
बिहार में 20 दिनों में AES से 300 बच्चों एवं 3 दिनों में लू से 300 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। AES व लू से मृत्यु ने आम लोगों को विचलित कर दिया। लेकिन डिप्टी सीएम पद पर रहते हुए भी आप विचलित नही हुए। अगर विचलित होते तो जरूर प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर संवेदना व्यक्त करते।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav 15h
देश और दुनिया को सच को सच दिखाने की हिम्मत जुटाने के लिए जी आप और आपके पूरे टीम को धन्यवाद ! वर्तमान परिवेश में ऐसी पत्रकारिता अब बची कहाँ है।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav retweeted
Radhika Khera 21h
ये है मौसम वैज्ञानिक के चिराग,बिहार जमुई से MP हर घंटे मासूम मर रहे है,ममता बिलख रही है, पूरा सूबा सिसक रहा है,सेकडो घर के चिराग बुझ गए उधर जी के गठबंधन के चिराग गोवा को जश्न के साथ रौशन कर रहे थे को 1और मंत्रालय तो बनता है
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav 19h
उपमुख्यमंत्री जी, काश.. इसी तरह मुज़फ्फपुर अस्पताल पहुँचकर AES जैसे घातक बीमारी के कारण जिंदगी और मौत से जूझ रहे गरीब बच्चों से मिलकर हाल चाल ले लेते। साथ ही 300 से अधिक मरने वाले मासूम बच्चों के परिजनों से मिलकर शोक - संवेदना व्यक्त कर देते। आपके अति संवेदनहीनता पर शर्म आती है।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav retweeted
Shailesh Kumar Urf Bulo Mandal 23h
आप भूल गयी कि बिहार में सबसे ज़्यादा विधायक एनडीए गठबंधन के है। 99% लोकसभा सांसद NDA गठबंधन के है। क्या आपने PM से सवाल पूछा? हिम्मत नहीं है क्योंकि नौकरी चली जाएगी? पक्षकार पत्रकार विपक्ष को लोकतंत्र ना सिखाए।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav 22h
पंडिताइन जी,सत्तापक्ष भले ही प्रचंड जीत के नशे में है।लेकिन राजद विपक्ष की भूमिका निभा रहे है। सबसे पहले 9 जून को मैंने बयान के माध्यम से AES से बच्चों की मौत का मामला उठाया था। लेकिन सत्ता की बदनामी की डर से कुछ मीडिया छोड़कर गोदी मीडिया ने मेरे बयान को जगह नही दिया।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav 24h
पंडिताइन जी,आपके सवालों को पीएम जी संज्ञान में लेते है.. इसलिए मोदी जी से पूछिए बिहार हिंदुस्तान में है,न कि पाकिस्तान में.. बिहार में AES से मरने वाले 300 बच्चें अधिकतर हिंदुओं के है,न कि मुसलमानों के.. फिर भी एक ट्वीट कर भी संवेदना व्यक्त नही करना क्या दर्शाता है ।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav Jun 17
मुख्यमंत्री जी,पिछले 20 दिनों में AES के कहर से 300 से अधिक बच्चों की मौत हो चुकी है। इतने बच्चों की मौत के बाद उच्चस्तरीय बैठक और मुज़फ्फपुर का दौरा करने के लिए आपकी नींद टूटी.. काश ! यह सब पहले कर लिए होते तो सैकड़ों बच्चें काल के गाल में समाने से बच जाते। बेहद संवेदनहीनता..
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav Jun 17
युवा राष्ट्रीय जनता दल ने मुजफ्फरपुर में एईएस से होने वाली मौतों को लेकर सीएम नीतीश कुमार जी और स्वास्थ्य मंत्री का पुतला दहन कर आक्रोश व्यक्त किया है। बच्चों की मौत की जिम्मेदारी लेते हुए नीतीश कुमार जी मुख्यमंत्री पद से अविलंब इस्तीफा दें।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav Jun 17
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जी, केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्वनी चौबे जी बिहार सरकार में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे जी AES से हुई गरीब बच्चों की मौत के प्रति कम चिंतित है और क्रिकेट मैच के स्कोर के प्रति ज्यादा चिंतित है। बेशर्मी की भी हद होती है..
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav Jun 17
माननीय आप देश के गृहमंत्री है या BJP के.. ? छोटी मोटी घटना में बीजेपी कार्यकर्ता की मौत पर ममता बनजी सरकार से मौत का हिसाब मांगते है।और गृह मंत्रालय एडवाइजरी जारी करती है। नीतीश सरकार से AES व लू से मौतों का हिसाब कब मांगेंगे ? और गृह मंत्रालय मौत पर एडवाइजरी कब जारी करेंगे ?
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav Jun 17
पूरा मोदी खानदान लगता है अमृत पीकर राजनीति में आएं है जिसका कभी सूरज डूबेगा ही नही.. माननीय आप तो बेशर्मी की सारी सीमाएं लाँघ कर रख दिए। पटना में A/C कमरें में बैठकर गलथेथरी कर रहे। एक बार मुज़फ्फपुर का दौरा कर AES से पीड़ित बच्चों का हाल-चाल तो ले लेते। बेहद संवेदनहीनता !
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav Jun 17
Replying to @Mukesh_Journo
विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं और नेताओं का निस्वार्थ भाव से सेवा भी गोदी मीडिया को राजनीति चमकाने जैसा लगता और दिनरात विपक्ष के विरुद्ध ही डिबेट चलाता.. जी आपके जैसे कुछ पत्रकार छोड़कर !
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav Jun 17
मीडिया के लिए भारत-पकितस्तान मैच और पश्चिम बंगाल का मामला जितना महत्वपूर्ण है। शायद बिहार में AES और लू से 500 मौत होने के बाद भी उतना महत्वपूर्ण नही है। क्यों कि यहाँ भाजपा समर्थित सुशासन बाबू की सरकार है। कल्पना कीजिए राजद की सरकार रहती तो सभी चैनलों में क्या डिबेट चलता..
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav Jun 16
पश्चिम बंगाल के राजनीति हिंसाओं पर केंद्र जी से हिंसा का हिसाब मांगती है और गृह विभाग एडवाइजरी जारी करती है। बिहार में AES व लू से अब तक 500 की मौते हो चुकी है। केंद्र को नीतीश जी से मौतों का हिसाब मांगने एवं गृह विभाग को एडवाइजरी जारी करने में सांप सूंघ लिया है।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav retweeted
Rashtriya Janata Dal Jun 16
बिहार में बढते अपराध,हत्या, लुट, डकैती, अपहरण एवं चमकी बुखार जैसी महामारी के चलते मुजफ्फरपुर में 200 बच्चों की मौत एवं कानून व्यवस्था को लेकर दिनांक 15/06/2019 को युवा राजद द्वारा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला दहन किया गया।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav Jun 16
नीतीश जी सिर्फ संवेदना व्यक्त कर व मुआवजे की घोषणा कर अपने जिम्मेदारियों से नही बच सकते है। बच्चों की मौत के लिए आखिर दोषी कौन है ? मुज़फ्फपुर में AES से 200 से अधिक बच्चों की मौत की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अविलंब सीएम पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।
Reply Retweet Like
Arun Kumar Yadav retweeted
Sanjay Yadav Jun 15
मैं नेता हूँ, डॉक्टर नहीं। मुजफ्फरपुर में दिमाग़ी बुखार से मरने वाले करीब 200 बच्चों की किस्मत ठीक नहीं थी। ये सब किस्मत का खेल है। बच्चों की मौत के लिए सरकार जिम्मेदार नहीं है! बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने कहा! इसे कहते हैं बिना आरक्षण वाले मंगल पांडे का मेरिट..!
Reply Retweet Like